प्रश्न. आप एक चिकित्सक के हैं। एक दिन आपके पास एक गर्भवती महिला आती है और आपसे अनुरोध करती है कि आप उसका गर्भपात कर दे ।उस महिला से संवाद के दौरान आप पते हैं की उस महिला के पहले से ही दो बेटियाँ हैं और पारिवारिक  स्थिति अच्छी नहीं है लेकिन फिर भी पति और ससुराल के अन्य लोगों की ‘लड़के’ की चाह के कारण वह पुनः गर्भवती हुई। चार माह के गर्भ पर जब उसने व उसके पति ने एक अन्य निजी अस्पताल में पैसे देकर भ्रूण लिंग जाँच कराई तब पता चला कि उसके दो लड़कियाँ एक साथ गर्भ में हैं। इस सूचना से उसका पति और वह भौचक्के रह गए। वे पहली दो लड़कियों का लालन-पालन भी अच्छे से नहीं कर पा रहे हैं। अब यदि 2 लड़कियाँ और हो गई तो समाज व ससुरालवाले तो जीना दूभर करेंगे ही, लड़कियों की जिन्दगी भी खराब होनी निश्चित है। इस दबाव में महिला ने गर्भपात का फैसला लिया है।
(क) इस केस-स्टडी में कौन-कौन से नैतिक मुद्दे निहित हैं?
(ख) एक चिकित्सक के तौर पर आप नैतिकता के नाते क्या फैसला लेंगे?

Please publish modules in offcanvas position.